एशिया महाद्वीप (Asia Continental) - देश और उनकी राजधानियाँ (Asian Countries and Their Capitals), सबसे बड़ा, उच्चा, गहरा, गर्म, ठंडा, अन्य तथ्य

एशिया विश्व का सबसे बड़ा महाद्वीप है। यह जनसंख्या व एरिया, दोनों से विश्व का सबसे बड़ा महाद्वीप, इसका क्षेत्रफल 44,444,100 वर्ग कि.मी. है, जो कि स्थलीय भाग का 33 प्रतिशत है। एशिया महादेश में लगभग 50 देश है।

यूराल पर्वत, कैस्पियन सागर, काकेशस पर्वत तथा काला सागर एशिया तथा यूरोप की सीमा बनाते हैंजबकि स्वेज नहर, लाल सागर एशिया एवं अफ्रीका के बीच सीमा बनाते हैं।

एशिया महाद्वीप का विस्तार : एशिया का अक्षांशीय विस्तार 10 डिग्री दक्षिणी अक्षांश से 80° उत्तरी अक्षांश तथा देशान्तरीय विस्तार 25° पूर्वी देशांतर से 180 डिग्री पूर्वी देशांतर है।

एशिया महाद्वीप में सबसे बड़ा, उच्चा , गहरा, गर्म, ठंडा, इत्यादि।


एशिया महाद्वीप के सर्वोच्च शिखर: माउण्ट एवरेस्ट (8848 मी. ऊचाई है)

एशिया महाद्वीप के सबसे गहरा गर्त: मेरियाना गर्त, प्रशांत महासागर फिलीपींस के पास है।

एशिया महाद्वीप के सबसे ऊँचा पठार: पामीर (इसे विश्व की छत कहा जाता है ).  एशिया में स्थित तिब्बत का पठार विश्व का सर्वाधिक ऊँचा एवं विस्तृत पठार है।

एशिया महाद्वीप के सबसे बड़ी झील: कैस्पियन सागर, कजाकिस्तान में स्थित है

एशिया महाद्वीप के सबसे गहरी झील: बैकाल, रूस में है।

एशिया महाद्वीप के सबसे गर्म स्थान: जैकोकाबाद, पाकिस्तान (52 ° C)

एशिया महाद्वीप के सबसे ठंडा स्थान: बोयांस्क, साइबेरिया (-68 ° C)

एशिया महाद्वीप के सर्वाधिक वर्षा वाला स्थान: मासिनराम, भारत

सर्वाधिक जनसंख्या वाला देश: चीन

सबसे लबी नदी: यारसी, चीन (5797 किमी)

सबसे बड़ा देश: चीन

सबसे छोटा देश: मालदीव.



सबसे लंबा रेलमार्ग: ट्रांस साइवेरियन (9232 किमी) (सेंट पीटर्सबर्ग से व्लाडीवोस्टक)

संसार का सबसे निचला भाग, मृत सागर (समुद्र तल से 400 मी. नीचा) के तट पर इजराइल, फिलीस्तीन एवं जार्डन है।

Asia Continental map
Asia Continental Map


एशियाई देश और उनकी राजधानियाँ (Asian Countries and Their Capitals)


देश  
राजधानी
अफगानिस्तान
काबुल
आर्मेनिया
येरेवान
अजरबैजान
बाकू
बहरीन
मनामा
बांग्लादेश ढाका
भूटान थिम्फू
ब्रुनेई
बंदर सेरी बेगवान
कंबोडिया
नोम पेन्ह
चीन
बीजिंग
साइप्रस
निकोसिया
जॉर्जिया
त्बिलिसी
भारत
नई दिल्ली
इंडोनेशिया
जकार्ता
ईरान
तेहरान
इराक़
बगदाद
इज़राइल
यरूशलेम
जापान
टोक्यो
जॉर्डन
अम्मान
कज़ाकिस्तान
नूर सुल्तान
कुवैत
कुवैत सिटी
किर्गिस्तान
बिश्केक
लाओस 
वियानतियाने
लेबनान
बेरूत
मलेशिया
कुआलालंपुर
मालदीव
माले
मंगोलिया
उलानबातर
म्यांमार (पूर्व में बर्मा)
नायपडॉ
नेपाल
काठमांडू
उत्तर कोरिया
प्योंगयांग
ओमान
मस्कट
पाकिस्तान
इस्लामाबाद
फिलिस्तीन
यरूशलेम (पूर्व)
फिलीपींस
मनीला
कतर
दोहा
रूस
मास्को
सऊदी अरब
रियाद
सिंगापुर
सिंगापुर
दक्षिण कोरिया
सियोल
श्रीलंका
श्री जयवर्धनेपुरा कोटे
सीरिया
दमिश्क
ताइवान
ताइपे
तजाकिस्तान
दुशांबे
थाईलैंड
बैंकॉक
तिमोर लेस्ते
दिली
तुर्की
अंकारा
तुर्कमेनिस्तान
अश्गाबात
संयुक्त अरब अमीरात
अबू धाबी
उज़्बेकिस्तान
ताशकंद
वियतनाम
हनोई
यमन
साना
भारत
नई दिल्ली

एशिया महाद्वीप के महत्त्वपूर्ण देशों से संबंधित अन्य तथ्य

नेपाल - नेपाल की राजधानी काठमांडू है। नेपाल, चीन व भारत के मध्य ' बफर स्टेट ' के रूप में हिमालय की गोद में स्थित एक पर्वतीय देश है। इसकी सीमा भारत के उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, सिक्किम व पश्चिम बंगाल राज्यों से लगाती है।

यहाँ की महत्त्वपूर्ण चोटियाँ- माउंट एवरेस्ट, धौलागिरि, कंचनजंगा (नेपाल व सिक्किम के सीमावर्ती क्षेत्र में), मकालू, अन्नपूर्णा, गौरीशंकर आदि हैं। मध्य हिमालय (धौलाधर) को नेपाल में ' महाभारत श्रेणी ' कहते हैं।

नेपाल एक स्थलीय अवरूद्ध देश है। इसका विदेशी व्यापार कोलकाता पतन से होता है।

नेपाल की काठमांडू घाटी, लुंबिनी, चितवन नेशनल पार्क और सागरमाथा नेशनल पार्क को यूनेस्को की विश्व विरासत सूची में शामिल किया गया है।

भूटान - भूटान, पूर्वी हिमालय की गोद में बसा स्थल अवरूद्ध देश है। भूटान को ' लैंड ऑफ थंडरवोल्ट ' कहते हैं  जिसे सर्पराज का देश कहा जाता है। यहां का राष्ट्रीय चिन्ह अजगर है। 

भूटान विश्व का एकमात्र ऐसा देश है जो अपने आर्थिक विकास की माप राष्ट्रीय खुशहाली के आधार पर करता है। यहाँ भोटिया नृजाति समूह की प्रधानता है।

यह चीन तथा भारत (सिक्किम, पश्चिम बंगाल, असम तथा अरुणाचल प्रदेश) के साथ अपनी सीमा साझा करता है। यहाँ की सबसे ऊँची पर्वत चोटी ' गांकर पुनसुम ' (कुलाकाँगड़ी) है। भूटान का सर्वोच्च शिखर कुलकंगरी (8200 मी.) महान हिमालय में स्थित है।

पाकिस्तान -  इसको ' नहरों का देश ' कहते हैं। पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद है. 

किरथर, हिंदुकुश एवं सुलेमान यहाँ की प्रमुख पर्वत श्रेणियाँ हैं। हिंदुकुश पर्वत की चोटी ' तिरिचमीर ' (7708 मी.) पाकिस्तान की सर्वोच्च चोटी है।

खैबर दर्रा ' हिंदुकुश ' में, जबकि बोलन दर्रा ' किरथर ' श्रेणी में स्थित है।

पाकिस्तान के उत्तरी-पश्चिमी क्षेत्र में 'स्वात घाटी' स्थित है जिसे पाकिस्तान का स्वर्ग ' कहा जाता है।

पाकिस्तान में ' साल्टरेंज ' अत्यंत महत्त्वपूर्ण स्थल है। यहाँ के मरुस्थलीय क्षेत्र में विश्व के सबसे गर्म स्थानों में से एक ' जैकोबाबाद ' स्थित है।

पाकिस्तान में सुलेमान श्रेणी, किरथर श्रेणी और साल्ट रेंज पर्वत विस्तृत हैं। इन श्रेणियों
को केवल दरों (खैबर, गोमल व बोलन) द्वारा पार किया जा सकता है।

सिन्धु नदी पर तारबेला बाँध परियोजना पाकिस्तान की सबसे बड़ी सिंचाई परियोजना है

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में हामुन-ई मशुकेल मरूस्थल स्थित है।

बांग्लादेश - बांग्लादेश की राजधानी ढक्का है। बांग्लादेश सिमा भारत और म्यांमार से लगती है।

विश्व के सबसे बड़े डेल्टा "सुंदरबन डेल्टा" (गंगा-ब्रह्मपुत्र नदी डेल्टा ) पर  स्थित देश है।

बांग्लादेश को ' नदियों का देश ' कहते हैं। बांग्लादेश प्रमुख नदियों में गंगा, ब्रह्मपुत्र, मेघना, सुरमा इत्यादि प्रमुख हैं।



श्रीलंका - श्रीलंका एक द्वीपीय देश है। रलद्वीप, पूर्व का मोती, सिंहल द्वीप, बा तपोवन जैसे नामों से जाना जाता है। पाक जलडमरूमध्य इसे भारत से अलग करता है। यहां प्रवाल द्वीप पाए जाते हैं, जिन्हें आदम का पुल कहा जाता है। श्रीलंका को पूर्व का मोती भी कहा जाता है।

माउण्ट पिदुरूतालागामा श्रीलंका की सर्वोच्च चोटी है। महावेली गंगा, श्रीलंका की सबसे लंबी नदी है।

भारत के धनुष्कोडी और श्रीलंका के तलैयामन्नार के मध्य प्रवाल द्वीप से निर्मित ' आदम का पुल ' है। यहाँ की सबसे लंबी नदी ' महावेलि गंगा ' तथा सबसे ऊँची चोटी ' पिदुस्तालागाला ' (Pidururalagala) (2527 मी.) है।

श्रीलंका चाय के निर्यात की दृष्टि से विश्व में अग्रणी है।

उत्तर-पूर्वी तट पर ट्रिकोमाली तथा पश्चिमी तट पर कोलंबो यहाँ के प्रमुख पत्तन है।

यहाँ का जाफना प्रायद्वीप श्रीलंका की मुख्य भूमि से ऐलिफेंटा दरे से  जुड़ा हुआ है।

म्यांमार - म्यांमार को ' स्वर्ण पैगोडा का देश ' कहते हैं। म्यांमार की नई राजधानी नेई पईताव है। माउण्ट हकाका यहां की सर्वोच्च चोटी है। सालवीन नदी के पूर्व में सुनहरा त्रिभुज है जो अफीम की खेती के लिए प्रसिद्ध है।

इरावदी नदी म्यांमार की जीवन रेखा है। म्यांमार के सालवीन और इरावदी नदी  दोआब को पूरब का खेती 'चावल का  कटोरा '  कहा जाता है.

विरासत म्यांमार के लिये सागौन पूरे विश्व की लकड़ी में प्रसिद्ध के लिये है। यहाँ तथा मर्तबान के ' प्यू की शहर खाड़ी ' को मोतियों विश्व सूची में शामिल किया गया है।

वहीं, ' इनले झील ' यहाँ का ' जैवमंडल अभयारण्य क्षेत्र ' है।

मलेशिया - मलेशिया उत्तरी गोलार्द्ध में स्थित मलाया प्रायद्वीप का एक भाग है। बोर्नियो द्वीप पर मलेशिया के दो राज्य ' सरावाक ' और ' सबाह ' स्थित हैं।

'किनाबलू ' मलेशिया का सबसे ऊँचा पर्वत शिखर है।

यहाँ की ' किता-केलांग ' घाटी में स्थित ' इपोह ' टिन उत्पादन का प्रमुख केंद्र है। ' गोपेन खान ' विश्व की सबसे बड़ी टिन उत्पादक खान है।

इंडोनेशिया - इण्डोनेशिया की राजधानी जकार्ता जावा द्वीप पर स्थित है

इंडोनेशिया ' अंतरमहाद्वीपीय देश ' है। यह क्षेत्रफल की दृष्टि से विश्व का सबसे बड़ा द्वीपीय देश है। 13,000 से अधिक द्वीपों का समूह है, जिसमें 6,000 द्वीपों पर लोग निवास करते हैं।

जावा, सुमात्रा, बोर्नियो (कालीमंतान), बाली, सुलावेसी इंडोनेशिया के  प्रमुख द्वीप हैं। बोर्नियो एशिया का सबसे बड़ा द्वीप है। इस द्वीप पर इंडोनेशिया, मलेशिया और ब्रुनेई का अधिकार है।

यहाँ की सर्वोच्च चोटी ' पुनकाक जया ' (5030 मी.) है। इंडोनेशिया के जावा द्वीप पर ' क्राकाताओ ज्वालामुखी पर्वत ' स्थित है। यहाँ की सबसे बड़ी झील सुमात्रा द्वीप पर स्थित ' टोबा झील ' है।

इंडोनेशिया, ब्राजील के बाद विश्व में सर्वाधिक जैवविविधता वाला देश है। प्राकृतिक वनस्पति और पशु-पक्षियों को विभाजित करने वाली ' वैलेस रेखा ' (Wallace Line) इसी देश में स्थित है।

' इंडोनेशिया ' चीन, भारत व यू.एस.ए के बाद चौथा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है। ' बहासा ' यहाँ की राष्ट्रभाषा है।

इंडोनेशिया विश्व का सबसे बड़ा सिनकोना उत्पादक देश है। सिनकोना से कुनैन बनाई जाती है जो मलेरिया की दवा है। इंडोनेशिया के बाडुग शहर में ' सिनकोना ' का सर्वाधिक उत्पादन होता है।

चीन - चीन जनसंख्या की दृष्टि से प्रथम व क्षेत्रफल की दृष्टि से विश्व का तीसरा सबसे बड़ा देश है। यहाँ की मुख्य भाषा मंदारिन है।

इसके पश्चिमी भाग में 'जुंगारिया बेसिन' स्थित है जो मध्य एशिया व चीन के मध्य एक 'प्रवेश द्वार' है।

चीन एशिया का सर्वाधिक टिन उत्पादक देश है। चावल का सर्वाधिक उत्पादक देश चीन है। शंघाई को चीन का मैनचेस्टर कहा जाता है।

चीन का ' मुकदेन त्रिभुज ' लौह व इस्पात के लिये तथा ' डकांग ' क्षेत्र बृहद् तेल भंडार व उत्पादन के लिये प्रसिद्ध है।

चीन को सोयाबीन एवं चाय की जन्मभूमि तथा कागज, रेशम व बारूद का जनक भी कहते हैं।

चीन की जेचवान तथा यांग्त्सीक्यांग की घाटी चाय उत्पादन तथा डेल्टा चावल उत्पादन के लिये प्रसिद्ध हैं।

यहाँ की 'पर्ल नदी डेल्टाई' क्षेत्र विश्व का सबसे बड़ा शहरी क्षेत्र बन चुका है।

लाल बेसिन को चीन का वाटिका कहा जाता है।

ताइवान - ताइवान जिसे चीन अपने अधिकार क्षेत्र में बताता है. मुख्य भूमि से दूर 'फारमोसा द्वीप' पर स्थित है। चीन का शासी तथा संसी प्रांत कोयला उत्पादन के लिये प्रसिद्ध है। सिक्वांगशान में चीन की सबसे बड़ी एंटीमनी की खान स्थित है।

जापान - जापान एक द्वीपीय देश है जिसे 'सूर्योदय का देश' (निप्पौन), 'भूकंपों का देश' और 'पूर्व का ग्रेट ब्रिटेन' कहा जाता है।

जापान में वसन्त के अन्त या ग्रीष्म के प्रारंभ में ध्रुवीय सागरीय वायुराशियों से मध्य तथा दक्षिणी भाग में भारी वर्षा होती है, जिसे बाइ-यू या प्लम वर्षा कहते हैं।

यह अनेक द्वीपों पर स्थित है, किंतु इनमें से क्षेत्रफल के आधार पर अवरोही क्रम में-होंशू, होकैडो, क्यूशू, शिकोकू चार प्रमुख द्वीप हैं। होशू द्वीप पर हिरोशिमा, नगोया, योकोहामा, क्योटो तथा ओसाका शहर स्थित हैं।

' वीवा झील ' जो जापान की महत्त्वपूर्ण झील है। यह होन्शू द्वीप पर स्थित है। जापान की सबसे बड़ी नदी ' शिनानो ' है।

जापान के प्रमुख बंदरगाह याकोहामा, कोबे, नगोया तथा ओसाका हैं।

एशिया की सबसे लंबी सुरंग ' शिकन ' (Seikan) जापान में है, जो 53,58 किमी. लंबी है।

मालदीव - मालदीव दक्षिण जनसंख्या व क्षेत्रफल दोनों की दृष्टि से एशिया का सबसे छोटा देश है। यह विश्व का समुद्र जलस्तर से सबसे कम ऊँचाई पर स्थित देश है।

मालदीव की राजधानी माले तथा राष्ट्रभाषा धिवेही है।

सऊदी अरब - सऊदी अरब यह विश्व के सबसे बड़े प्रायद्वीप अरब प्रायद्वीप पर स्थित है तथा क्षेत्रफल की दृष्टि से दक्षिण पश्चिम एशिया का सबसे बड़ा देश है।

यह एकमात्र ऐसा देश है जिसकी सीमा लाल सागर व फारस की खाड़ी, दोनों से मिलती है।

'जेद्दा ' पश्चिमी एशिया का सबसे बड़ा बंदरगाह व हवाई अड्डा है। मक्का व मदीना सऊदी अरब के प्रमुख मुस्लिम धार्मिक स्थल हैं।

खनिज तेल उत्पादन व निर्यात में सऊदी अरब का विश्व में अग्रणी स्थान है।

ईरान - ईरान की राजधानी तेहरान है। ईरान शिया मुस्लिम बाहुल्य देश है। यह विश्व का एकमात्र देश है जिसकी सीमा कैस्पियन सागर व फारस की खाड़ी दोनों से मिलती है।

अरब सागर के तट पर ईरान का चाबहार बंदरगाह स्थित है जो भारत के लिये सामरिक दृष्टिकोण से महत्त्वपूर्ण है। यहाँ का अबादान शहर तेल शोधन केंद्र के लिये प्रसिद्ध है।

कारून ' यहाँ की एक महत्त्वपूर्ण नदी है।

इराक - इराक की राजधानी बगदाद है व ऐतिहासिक-सांस्कृतिक नगर है। कर्बला यहाँ का धार्मिक व सांस्कृतिक स्थान है।

यह प्राचीन मोसोपोटामिया सभ्यता की भूमि है। इस सभ्यता का विकास दजला-फरात ' (टिगरिस-यूफ्रेटस) के बेसिन क्षेत्र में हुआ था।

तुर्की - तुर्की भूमध्य सागर व काला सागर के मध्य स्थित एक अंतरमहाद्वीपीय देश है। इसका विस्तार एशिया व यूरोप, दोनों में है।

तुर्की की सबसे ऊँची चोटी माउंट अरारात (5165 मी.) है। इसी पर्वत से ' दजला-फरात ' नदियाँ निकलती हैं।

यहाँ के इस्तांबुल नगर का विकास एशिया व यूरोप, दोनों महाद्वीपों पर हुआ है। यहाँ ' इजमिर की घाटी ' अफीम के उत्पादन (कृषि) के लिये प्रसिद्ध है।

इज़राइल - येरुसलेम एक प्रसिद्ध शहर है, जो यहूदी, ईसाई व मुस्लिमों का धार्मिक स्थल है।  पर इज़राइल ने कब्जा कर उसे अपनी राजधानी बना लिया है, जो खाड़ी देशों के विवाद का प्रमुख कारण है। इज़राइल की सीमा लेबनान, सीरिया, जॉर्डन तथा मिस्र से जुड़ी हुई है।

विश्व की सर्वाधिक ऊँचाई पर स्थित खारे पानी की झीलपैगांग झील है जो लद्दाख (भारत) एवं तिब्बत (चीन) के मध्य स्थित है। स्थल खंड में विश्व का सबसे नीचा सागर मृतसागर।

थाइलैंड रबर का सबसे बड़ा उत्पादक देश है। इसे सफेद हाथियों का देश भी कहते हैं। ओमान और ईरान के बीच होर्मुज जलसंधि है।

एशिया के स्थलरुद्ध (Landlocked) देश 

अफगानिस्तान, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, तजाकिस्तान तुर्कमेनिस्तान, उज्बेकिस्तान, अर्मेनिया, अजरबेजान, मंगोलया, नेपाल, भूटान तथा लाओस हैं।